Wednesday, 8 May 2013

सत्ता की ओर कांग्रेस के बढ़ते कदम



बेंगलूरु : कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए बुधवार को वोटों की गिनती जारी है। अब तक 194 सीटों पर रुझान सामने आए हैं। जिसमें कांग्रेस 87 सीटों पर आगे है और बीजेपी 41 सीटों पर आगे है। वहीं, कर्नाटक जनता पार्टी (केजेपी) 11 सीट और जेडीएस 43 पर बढ़त बनाए हुए है। वहीं, अन्‍य दल 12 सीटों पर आगे हैं। 

सुबह आठ बजे से वोटों की गिनती शुरू हुई है और माना जा रहा है कि तस्वीर दोपहर 12 बजे साफ हो जाएगी। अबसे कुछ ही घंटे बाद 224 विधानसभा सीटों में से 223 सीटों के लिए खड़े कुल 2940 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला हो जाएगा। 1 सीट पर मतदान स्थगित कर दिया गया है। बहुमत के लिए 113 सीटों की दरकार होगी। 

इन सीटों के लिए मतदान 5 मई को हुआ था जिसमें राज्य के करीब 4.35 करोड़ मतदाताओं में 70.23 फीसदी लोगों ने अपने मताधिकार का उपयोग किया था।

राज्य में मुकाबला सत्तारूढ़ भाजपा, मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस और पूर्व प्रधानमंत्री एच डी देवेगौड़ा की पार्टी जदएस के बीच है। लेकिन पूर्व मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा की अगुवाई वाली कर्नाटक जनता पार्टी की मौजूदगी ने सभी दलों की मुश्किल बढ़ा दी हैं।

दक्षिण भारत में भाजपा की अब तक की पहली सरकार पिछले विधानसभा चुनाव में कर्नाटक में बनी थी इसीलिए यह राज्य पार्टी के लिए खास महत्व रखता है। लेकिन चुनाव अनुमानों के मुताबिक, संकट में घिरी भाजपा की स्थिति डांवाडोल है जबकि कांग्रेस के मजबूती के साथ उभरने की संभावना है।

वर्ष 2008 के विधानसभा चुनाव में 224 सीटों के लिए हुए मतदान में भाजपा को 110 सीटें मिली थीं। कांग्रेस को 80 सीटें और जदएस को 28 सीटें मिली थीं। वर्ष 2008 में कुल 64.91 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया था।

No comments:

Post a Comment