Tuesday, 21 May 2013

सिर्फ 20 सेकेंड में चार्ज होगी मोबाइल की बैटरी


लंदन। मोबाइल को चार्ज करने के लिए अब घंटों इंतजार करने के दिन लदने वाले हैं। कैलिफोर्निया में भारतीय मूल की छात्रा ने अपनी क्रांतिकारी खोज से तकनीकी दिग्गज गूगल का ध्यान अपनी ओर आकर्षित किया है।

भारतीय-अमेरिकी एशा खरे ने एक ऐसा सुपर फास्ट चार्जर बनाया है, जिसकी मदद से मोबाइल फोन की बैटरी महज 20 सेकेंड में चार्ज हो जाएगी। साराटोगा की रहने वाला 18 वर्षीय एशा को इंटेल इंटरनेशनल साइंस एंड इंजीनियरिंग फेयर की ओर से पचास हजार डॉलर [करीब 27 लाख रुपये] का इनाम भी मिला है। इस मेले का आयोजन इस हफ्ते फिनिक्स में किया गया था। सुपरकैपेसिटर नाम के इस उपकरण की मदद से मोबाइल की बैटरी अब सिर्फ 20 सेकेंड में चार्ज हो जाएगी। इससे पहले खरे अपने सुपरकैपेसिटर का इस्तेमाल लाइट इमिटिंग डायोड [एलईडी] को चार्ज करने के लिए करती थी। उनके सुपरकैपेसिटर से भविष्य में कार और दूसरे इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों की बैटरी को भी चार्ज किया जा सकेगा। ऊर्जा भंडारण प्रौद्योगिकी पर काम करने को लेकर उनकी प्रेरणा के बारे में सवाल पूछे जाने पर खरे ने कहा कि मेरे फोन की बैटरी बार-बार खत्म हो जाती थी, जिससे मुझे खीझ होती थी और मैंने कुछ नया करने की सोची। खरे को नैनो टेक्नोलॉजी में विशेषज्ञता हासिल है। उन्होंने कहा, नैनो तकनीकी में काम करते हुए कई अन्य क्षेत्रों में महत्वपूर्ण काम किए जा सकते हैं।

No comments:

Post a Comment