Tuesday, 28 February 2012

अतिशीघ्र आवश्यकता है !!

Saturday, 25 February 2012

भारत की फाइनल की राह में आया श्रीलंका

होबार्ट - श्रीलंका ने भारत के लिए मुश्किलें खड़ी कर दी हैं। अंदरूनी कलह से जूझती टीम इंडिया के सामने अब सीबी सीरीज़ के फाइनल में पहुंचने का रास्ता बेहद मुश्किल हो गया है। शुक्रवार को ऑस्ट्रेलिया पर श्रीलंका की 3 विकेट की जीत के बाद अब टीम इंडिया को अपने दोनों मैच जीतने होंगे।

रविवार को सिडनी में टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया से भिड़ेगी। इसके बाद 28 फरवरी को होबार्ट में टीम श्रीलंका के सामने होगी। सीबी सीरीज़ के फाइनल में पहुंचने के लिए टीम को ये दोनों मैच हर हाल में जीतने होंगे।

शुक्रवार को श्रीलंका ने आखिरी ओवर में ऑस्ट्रेलिया को 3 विकेट से रौंदकर पूरे टूर्नामेंट को खोल दिया है। ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 6 विकेट खोकर 280 रन बनाए। इसके जवाब में श्रीलंका ने 7 विकेट खोकर 283 रन बना लिए। अब यहां से कोई भी टीम फाइनल में पहुंच सकती है। सीबी सीरीज़ में यह श्रीलंका की लगातार तीसरी जीत है और अब यह टीम प्वॉइंट टेबल में शीर्ष पर है। अब सभी टीमों के पास दो-दो मैच हैं।

शुक्रवार के मैच से पहले भारत के लिए टूर्नामेंट में जाने का समीकरण साफ था। या तो टीम इंडिया अपने बाकी बचे दो मैच जीते या फिर श्रीलंका तीनों मैच हारे। चूंकि, श्रीलंका ने शुक्रवार को खेला गया मैच जीत लिया है, इसलिए अब टीम इंडिया के पास सिर्फ अपनी जीत का रास्ता बचा है। फाइनल में सीट बुक करने के लिए टीम इंडिया को कमर कसनी होगी और बाकी बचे दोनों मैच जीतने होंगे।

दो मंत्रियों पर भारी पड़ सकता है सोमवार

नई दिल्ली। कानून मंत्री सलमान खुर्शीद और इस्पात मंत्री बेनी प्रसाद वर्मा के बाद अब केंद्रीय कोयला मंत्री श्रीप्रकाश जायसवाल भी आचार संहिता उल्लंघन के घेरे में हैं। राष्ट्रपति शासन लगने संबंधी बयान पर एतराज जताते हुए चुनाव आयोग ने उन्हें नोटिस जारी कर सोमवार की दोपहर तक सफाई देने को कहा है। बेनी की सुनवाई भी उसी शाम दोनों पक्षों की मौजूदगी में होगी। इसलिये सोमवार दो मंत्रियों पर भारी पड़ सकता है।

उत्तर प्रदेश में कांग्रेस की सरकार न बनने की दशा में राष्ट्रपति शासन लगने का बयान देना जायसवाल के लिए मुश्किलों का सबब बन गया। एक तरफ जहां कांग्रेस नेतृत्व को यह बयान रास नहीं आ रहा है, वहीं आयोग ने भी नोटिस जारी कर दिया है। शुक्रवार को जारी नोटिस में आयोग ने माना है कि पहली नजर में उनका बयान आचार संहिता का उल्लंघन है जिसमें मतदाताओं को परोक्ष धमकी दी गई है।

उन्हें सोमवार की दोपहर दो बजे तक अपनी सफाई देने को कहा गया है। उधर, बेनी का मामला भी सोमवार तक टल गया है। शिकायतकर्ता और भाजपा प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन के आग्रह पर सुनवाई सोमवार की शाम को होगी। ध्यान रहे कि उत्तार प्रदेश विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान मुस्लिम आरक्षण बढ़ाने के बयान पर घिरे बेनी के आचरण पर आयोग ने पहले ही अपनी सख्त आपत्तिजता दी थी। बेनी ने आग्रह किया था कि कोई फैसला लेने से पहले उन्हें सुनवाई का एक मौका दें। सुनवाई के दौरान शाहनवाज को भी मौजूद रहना था। लेकिन बाद में उनके आग्रह पर सुनवाई की तिथि सोमवार तक बढ़ा दी गई है।

गौरतलब है कि सुनवाई के दौरान दोनों पक्ष के अधिवक्ता भी मौजूद होते हैं। उनकी दलील सुनने के बाद आयोग अपना निर्णय लेता है। वैसे यह तय माना जा रहा है कि बेनी को कम से कम आचार संहिता उल्लंघन का दोषी करार दिया जाएगा। जबकि, भाजपा की ओर से कुछ कठोर निर्णय लेने के लिए दबाव बनाया जाएगा। गौरतलब है कि कानून मंत्री सलमान खुर्शीद के मामले में आयोग ने राष्ट्रपति को भी पत्र लिखकर हस्तक्षेप की मांग की थी। राष्ट्रपति ने कार्रवाई के लिए उस पत्र को प्रधानमंत्री को भेज दिया था।

गोवा में हॉट नर्गिस संग जन्मदिन मनाएंगे शाहिद कपूर!

अभिनेता शाहिद कपूर ने इस बार अपने जन्मदिन को धूमधाम से मनाने की सारी तैयारियां पूरी कर ली है। हो भी क्यों न! उनका प्रोफेशनल करियर सही दिशा में आगे बढ़ रहा है और निजी जिंदगी भी पटरी पर है। वे आज 31 साल के हो गए हैं ।

उन्होंने इस बर्थडे पर खुद को जगुआर कार भेंट की है। साथ ही उन्होंने बर्थडे सलिब्रेशन के लिए हफ्ते भर लंबा प्रोग्राम बनाया है। सूत्रों के अनुसार शाहिद पार्टी के लिए गुरुवार को ही गोवा पहुंच गए। इस पार्टी में उनके नजदीकी दोस्तों के अलावा खास दोस्त नर्गिस फखरी और तब्बू भी मौजूद रहेंगी।

शाहिद के साथ तब्बू की पुरानी दोस्ती है लेकिन नर्गिस के साथ दोस्ताना नया है। हाल ही में एक अवॉर्ड फंक्शन में दोनों ने साथ में परफॉर्म किया।

तेल की कीमतों के लिए भारत-चीन दोषी

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों का ठीकरा एक बार फिर भारत और चीन के सिर पर फोड़ा है। ओबामा ने कहा कि भारत, चीन और ब्राजील जैसे देशों में तेल की मांग लगातार बढ़ रही है और इसके चलते अमेरिकियों को तेल के लिए ज्यादा पैसे देने पड़ रहे हैं।
ओबामा ने कहा कि 2010 में चीन में एक करोड़ नई कारें सड़कों पर आईं आप अंदाजा लगा सकते हैं कि इन कारों के लिए कितने तेल की जरुरत होगी। भारत और चीन जैसे देशों में कारों की मांग लगातार बढ़ रही है वह अमेरिकियों की तरह नई कारें खरीदना चाहते हैं। गौरतलब है कि अमेरिका दुनिया का सबसे ज्यादा तेल खपत करने वाला देश है सबसे ज्यादा कारें भी अमेरिका में है। इसके बावजूद ओबामा तेल को लेकर भारत और चीन पर निशाना साधते रहते हैं।

मायावती सरकार के सबसे 'ताकतवर' मंत्री मुश्किल में

लखनऊ. चुनावी माहौल के बीच मायावती की बसपा पार्टी को चुनाव आयोग ने दिया एक बड़ा झटका। उत्तरप्रदेश के लोकायुक्त ने बुधवार को मायावती के करीबी और मायावती सरकार के सबसे प्रभावशाली मंत्री माने जाने वाले नसीमुद्दीन सिद्दीकी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की सिफारिश की है।
नसीमुद्दीन के खिलाफ यह आदेश आय से अधिक संपत्ति के मामले में दिया गया है। इसके साथ ही लोकायुक्त ने इस मामले की जांच सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय से कराने की सिफारिश भी की। आपको बता दें कि नसीमुद्दीन उत्तरप्रदेश की मुख्यमंत्री मायावती के काफी करीबी माने जाते हैं। हाल ही में खबरों की सुर्खियों में आए शराब व्यवसायी पोंटी चड्ढा से भी नसीमुद्दीन के काफी घनिष्ठ संबंध हैं। पोंटी चड्ढा के खिलाफ फिलहाल जांच चल रही है।

Friday, 10 February 2012

आखिर इस सवाल पर प्रियंका को क्यों आया गुस्‍सा


अपने बच्चों रेहान और मिराया के राजनीति में आने के सवाल पर प्रियंका बिफर पड़ीं। उन्होंने कहा कि फिजूल की बात मत करिए। वह शहर में रहते हैं। उन्हें वह इसलिए अपने साथ लाती हैं, ताकि वे ग्रामीण परिवेश को देख सकें। कुछ सीख और समझ सकें। बच्चों के राजनीति में आने के सवाल पर झल्लाई यहां सवाल उठता है कि प्रियंका को इस बात पर गुस्सा क्यों आया। अपनी मां सोनिया गांधी और भाई राहुल गांधी का चुनाव प्रबंधन देख रही प्रियंका वाड्रा के सियासत में आने को लेकर भी जब तब उनसे सवाल पूछे जाते रहे हैं।

इस बारे में पूछे गए सवाल को आमतौर पर वह मुस्कुराकर या फिर कोई नई बात कहक र टाल जाती हैं। उनके ताजा दौरे में भी यह सवाल मुखर हुआ था। इसपर प्रियंका का जवाब भी आया था। उन्होंने कहा कि जाकर मायावती से और राजनाथ सिंह से पूछिए। इस बीच बृहस्पतिवार को प्रियंका के बच्चों के बारे में पूछे गए सवाल पर प्रियंका की तीखी प्रतिक्रिया को लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म है।

10 सीटों पर चुनाव प्रचार करने की जिम्मेदारी हालांकि, इस दौरान प्रियंका ने पत्रकारों के दूसरे सवालों के जवाब सरलता से दिए। रायबरेली और अमेठी तक ही प्रचार अभियान के सीमित रहने के बारे में प्रियंका ने कहा कि उन्हें जो जिम्मेदारी मिलती है, वह उसे निभाती हैं। अमेठी और रायबरेली जिले की 10 सीटों पर चुनाव प्रचार करने की जिम्मेदारी दी गई है।

सभी सीटों पर कांग्रेस के उम्मीदवार विजयी होंगे। कांग्रेस के सत्ता आने पर सीएम कौन होगा, इस सवाल को वह हंसकर टाल गईं। विधानसभा चुनाव में मायावती हार रही हैं बृहस्पतिवार को अमेठी की सलोन और रायबरेली जिले की ऊंचाहार विधानसभा क्षेत्रों में चुनाव प्रचार के दौरान पारी गांव में आयोजित जनसभा को संबोधित करने के बाद मीडिया कर्मियों से मुखातिब प्रियंका से यह भी पूछा गया कि सुल्तानपुर में प्रदेश की मुखिया मायावती आरोप लगा रही हैं कि गांधी परिवार की वजह से प्रदेश में विकास नहीं हुआ है। इस पर प्रियंका ने कहा कि विधानसभा चुनाव में मायावती हार रही हैं। इस वजह से वह आरोप लगा रही हैं।