Tuesday, 11 June 2013

जापान में अब 500 किमी. की रफ्तार से दौड़ेगी बुलेट ट्रेन

टोक्‍यो : जापान ने अब ऐसी बुलेट ट्रेन तैयार कर ली है जो 500 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से पटरियों पर दौड़ेगी। इस ट्रेन का पहला सफल परीक्षण किया जा चुका है। 

जापान की यह ऐसी पहली वाणिज्यिक ट्रेन है जो हवा में तैरने वाले चुंबकीय ट्रैक पर दौड़ लगाएगी। जापान में इस तकनीक से दौड़ने वाली ट्रेनों को मैगलेव ट्रेन नाम दिया गया है। 

सेंट्रल जापान रेलवे के अधिकारियों ने सोमवार को मध्य जापान के यामानाशी प्रांत में बने टेस्ट ट्रैक पर इस एलओ मॉडल का परीक्षण किया। बेहद तेज गति की इस ट्रेन के परीक्षण के लिए इसके टेस्ट ट्रेक का 43 किलोमीटर तक विस्तार किया गया था। पांच डिब्बों वाली इस ट्रेन के आगे इंजन लगा था और इसने धीमी रफ्तार से अपने ट्रैक पर दौड़ना शुरू किया। शुरुआत में यह देखा गया कि चुंबकीय ट्रैक पर क्या ट्रेन सही ढंग से सतह को छोड़ कर धीरे-धीरे उठ पाती है।

जापान में चुंबकीय तकनीक से दौड़ने वाली इन ट्रेनों की कॉमर्शियल शुरुआत 2027 में टोक्यो और नागोया के बीच करने की तैयारी है। यह ट्रेन 500 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से यात्रा करेगी, जिससे टोक्यो-नागोया जैसे दूरस्थ शहरों का सफर मात्र 40 मिनट का रह जाएगा। 

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार अपने अंतिम रूप में यह ट्रेन 16 डिब्बों की होगी और एक बार में इसमें 1000 मुसाफिर तक सफर कर सकेंगे। साल 2045 तक इसके ओसाका तक बढ़ाए जाने की योजना है। इसके बाद भविष्य में इन ट्रेनों से पूरे जापान को जोड़ने की योजना है।

जापान की बुलेट ट्रेन तकनीक का फायदा भारत को भी मिलेगा। जापान ने भारत को भरोसा दिलाया है कि वह उसके यहां हाई स्पीड रेलवे सिस्टम को विकसित करने में भारी निवेश करने का इच्छुक है। पिछले दिनों प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह जापान गए थे, जहां उन्होंने जापानी पीएम शिंजो अबे के साथ संयुक्त वक्तव्य जारी किया था। इसमें भारत में 200 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से ट्रेन चलाने के लिए दोनों देशों के आपसी सहयोग की बात कही गई थी। 

No comments:

Post a Comment